04 October 2010

महंगा हुआ पर्यटन



टाईगर रिजर्व और पर्यटक स्थल के शुल्क बढ़े


जबलपुर। नेशनल पार्क, टाइगर रिजर्व सहित अन्य पर्यटक स्थलों के शुल्क बढ़ा दिए गए हैं। शासन ने समस्त टाइगर रिजर्व में हल्के वाहन (आठ व्यक्तियों तक) पर भारतीय पर्यटक के लिए एक हजार और विदेशी के लिए दो हजार फीस तय की है। मिनी बस (9 से 32 व्यक्तियों तक) पर घरेलू और विदेशी के लिए क्रमश: 1600 और 12 हजार रुपए शुल्क रखा गया है। इसी प्रकार अन्य संरक्षित क्षेत्रों में हल्के वान पर भारतीय के लिए 400 रुपए और विदेशी के लिए 1500 रुपए निर्धारित किया गया। मिनी बस पर क्रमश: एक हजार और 10 हजार रुपए रखा गया है।
पचमढ़ी व्यू प्वाइंट्स-
पचमढ़ी व्यू पाइंट्स में दो पहिया पर घरेलू के लिए 100 और विदेशी के लिए 600, हल्के वाहन में पांच से 10 पर्यटक पर भारतीय के लिए 250 से 300 और विदेशी के लिए 1500 रुपए है। वहीं पांडव फाल, स्नेह फाल एवं अन्य स्थानों के पर दो पहिया वाहन पर 40 रुपए घरेलू के लिए तो 200 रुपए रखा गया है। फॉसिल उद्यान में पैदल दर्शन पर देश के पर्यटकों से 10 प्रति व्यक्ति लिया जाएगा।
कैपिंग के लिए तीन सौ-
राष्ट्रीय उद्यान एवं अभ्यारण्य में चिंहित अहातों में कैपिंग के लिए देशी पर्यटकों से 300 रुपए एक रात का लिया जाएगा। इसमें मार्गो पर ट्रेकिंग और साइकिलिंग शामिल है। हाइड मचान एवं वाच टावर से वन्य जीव दर्शन के लिए टाईगर रिजर्व में भारतीय पयटकों से 150 रुपए लिया जाएगा। रातापानी अभ्यारण्य में विश्व धरोहर स्थल भीमबेटिका के लिए प्रति व्यक्ति 10 रुपए है।
दौ सौ हुई हाथी की सवारी-
हाथी पर बैठकर बाघ एवं तेंदुआ दर्शन के लिए देशी पर्यटकों से 200 और विदेशियों से 600 रुपए प्रति व्यक्ति लिया जाएगा। एक हाथी पर चार व्यक्ति ही बैठ सकेंगे।

1 comment:

गिरीश बिल्लोरे said...

महत्व पूर्ण सूचना शुक्रिया जी