04 August 2008

आतंक का अंत



आज एक और आतंक का अंत हो गया मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश में आतंक का पर्याय बन चुके अम्बिका पटेल उर्फ़ ठोकिया का आज स्पेसल टास्क फोर्स नेचित्रकूट के घने जंगलो में इस पाँच लाख के इनामी डकैत को मर गिराया । इसके ऊपर १५० से अधिक मुकदमे लूट डकैती चोरी अपहरण और छिनैती के दर्ज थे। पुलिस महानिदेशक विक्रम सिंघ ने अस्तिफ के अधिकारीयों को १ - १ लाख रुपये नकद इनाम दिए हैं। एस टी ऍफ़ के एस एस पी अमिताब यस् ने पूरी कमान को संभाली थी। इससे पहले शिव कुमार पटेल उर्फ़ ददुआ का भी यही अंजाम हुआ था ।

4 comments:

stock investing research said...

what happened to the other one?

Anonymous said...

bada tej blog hai ye mahashakti samuh

अशोक पाण्डेय said...

ठोकिया को ठोंक दिया गया। यह तो अच्‍छी खबर है।

mahashakti said...

अच्‍छी खबर है, आंतक का अंत होना ही च‍ाहिये